16 करोड़ के इंजेक्शन से बचेगी सृष्टि की जान, अब तक जमा हुए मात्र 40 लाख

0 140

पलामू : नन्ही सी जान सृष्टि एक बेहद ही खतरनाक बीमारी से लड़ रही है. स्पाइनल मस्कुलर अट्रॉफी टाइप वन नामक बीमारी से ग्रसित है. इस मासूम बच्ची के इलाज के लिए 16 करोड़ रुपये के इंजेक्शन की जरुरत है. 1 साल 10 महीने की सृष्टि को जरूरत है आपकी मदद और दुआ, दोनों की.

करीब 6 महीने तक छत्तीसगढ़ के बिलासपुर एम्स में इलाज करा कर मेदिनीनगर लौटे उसके परिजनों ने आम लोगों से मार्मिक अपील की है कि वे उनकी नन्हीं सी बच्ची की जान बचा लें ताकि, वह अपना दूसरा जन्मदिन भी अपने माता पिता के साथ मना सके. एसएमए बीमारी से जूझ रही सृष्टि घर पर भी वेंटिलेटर के सहारे ही सांस ले रही है.

सृष्टि के पिता सतीश राम बिलासपुर में कॉल फील्ड में काम करते हैं, लेकिन बेटी के इलाज के सिलसिले में उनका काम धाम भी पिछले डेढ़ साल से बंद है. उन्होंने बताया कि चिकित्सकों के मुताबिक इस बीमारी इलाज भारत में उपलब्ध नहीं है. इसका एकमात्र इलाज 16 करोड़ का इंजेक्शन जोलगेंसमा है, जिसे अमेरिका की एक कंपनी बनाती है.

चिकित्सकों ने बताया है कि इस दवा की लगने की उम्र दो वर्ष से पहले है. यानी की सृष्टि के पास अब मात्र 2 से 3 महीने ही बचे है. पिता और माता ने सभी लोग से निवेदन किया है कि बच्ची की जान बचाने में उनकी मदद करें. फिलहाल सृष्टि मेदिनीनगर के रामनगर में अपने नाना-नानी के घर पर है.

पिता सतीश कुमार ने अपना मोबाइल नम्बर 9608742225 जारी करते हुए सृष्टि के लिए इंपैक्ट गुरु फंडरेजर साइट https://www.impactguru.com/fundraiser/help-srishti-rani-mk-story-v3-tr पर जाकर मदद की अपील की है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.