टोक्यो पैरालिम्पिक्स : कृष्णा नागर ने बैडमिंटन में जीता गोल्ड मेडल, पीएम मोदी ने दी बधाई

0 241

टोक्यो    :  पैरालंपिक में कृष्णा नागर ने गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया है. एसएल6 क्लास फाइनल में कृष्णा नागर ने हांगकांग के चु मान केइ 21-17, 16-21, 21-17 को हराया. टोक्यो पैरालंपिक में बैडमिंटन में यह भारत का चौथा पदक है. टोक्यो पैरालंपिक में यह भारत का 5वां गोल्ड है. कृष्णा से पहले बैडमिंटन में प्रमोद भगत  गोल्ड, सुहास यतिराज सिल्वर और मनोज सरकार ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके हैं.

इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक में भारत की पदकों की संख्या 19 हो गई है. भारत ने अब तक 5 गोल्ड, आठ सिल्वर और छह ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं. भारत टोक्यो पैरालंपिक में निशानेबाजी में पांच और बैडमिंटन में चार पदक जीत चुका है.

कृष्णा की जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्विटप बधाई संदेश देते हुए लिखा है “हमारे बैडमिंटन खिलाड़ियों को टोक्यो पैरालिंपिक में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए देखकर खुशी हुई. कृष्णा नागर का उत्कृष्ट प्रदर्शन हर भारतीय के चेहरे पर मुस्कान लेकर आया है. उन्हें गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई. उनके आगे के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं.

केन्द्रीय कानून मंत्री किरण रिजिजू ने कृष्णा नागर को गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई दी है

 

टोक्यो पैरालंपिक में यह भारत का 5वां गोल्ड मेडल है. टोक्यो पैरालंपिक में कृष्णा से पहले प्रमोद भगत (बैडमिंटन), मनीष नरवाल (निशानेबाजी), सुमित अंतिल (भालाफेंक) और अवनि लेखरा (निशानेबाजी) भारत को गोल्ड दिला चुके हैं. कृष्णा नागर पैरालंपिक खेलों में गोल्ड जीतने वाले सिर्फ 8वें भारतीय खिलाड़ी हैं. पैरालंपिक खेलों में भारत को पहला गोल्ड मुरलीकांत पेटकर ने 1972 में दिलाया था. इसके बाद देवेंद्र झाझरिया ने एथेंस ओलंपिक 2004 और रियो ओलंपिक 2016 में भालाफेंक में भारत को गोल्ड दिलाया. वहीं रियो खेलों में मरियप्पन थंगावेलु ने ऊंची कूद में स्वर्ण पदक जीता था

Leave A Reply

Your email address will not be published.